Home उत्तराखंड मेडिकल स्लाइड

उत्तराखंड के पौड़ी में चीन से लौटे 12 लोगों में से पांच परीक्षण में नहीं मिले कोरोना वायरस के लक्षण

Facebooktwittermailby feather

स्वास्थ्य विभाग पौड़ी ने चीन से लौटे चार और लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर लिया है। जनपद में चीन से 12 लोग लौटे थे, जिनमें से अब तक कुल पांच लोगों का परीक्षण हो चुका है। राहत की बात यह है कि परीक्षण में किसी भी व्यक्ति में कोरोना वायरस के लक्षण नहीं मिले हैं।विभाग ने एक व्यक्ति को छोड़ सभी को ट्रेस कर लिया है। दो अन्य राज्यों, दो देहरादून व दो ऋषिकेश में रहते हैं। विभाग ने संबंधित राज्य व जिलों को इन लोगों की सूचना पता सहित भेज दी है, जबकि अभी भी एक व्यक्ति का पता नहीं चल पाया है। केंद्र सरकार की ओर से पांच फरवरी को स्वास्थ्य विभाग को जनपद में चीन से लौटे 12 लोगों की सूची मिली, जिसमें छह फरवरी को विभाग ने एक व्यक्ति को ट्रेस कर उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया।शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग ने शेष 11 लोगों की तलाश की, जिसमें लक्ष्मणझूला क्षेत्र के चार लोगों को ट्रेस किया गया। इनके स्वास्थ्य परीक्षण में भी कोरोना वायरस के कोई लक्ष्मण नहीं मिले।

स्वास्थ्य विभाग की पड़ताल में सामने आया कि चीन से लौटे 12 लोगों में से दो लोग कोटद्वार, एक थलीसैंण, सात लक्ष्मणझूला क्षेत्र, एक कोट ब्लाक के रहने वाले है, जबकि एक व्यक्ति का पूरा पता नहीं होने से उसे ट्रेस नहीं किया जा सका है।विभागीय अधिकारियों ने बताया कि कोटद्वार के रहने वाले लोगों में एक इंदौर और दूसरा पुणे में रहता है। लक्ष्मणझूला क्षेत्र के सात लोगों में से चार का परीक्षण कर लिया गया है, जबकि दो लोग देहरादून व एक ऋषिकेश में रहता है। कोट ब्लाक का रहने वाला व्यक्ति भी वर्तमान में ऋषिकेश में ही रह रहा है, जबकि एक व्यक्ति का पूरा पता नहीं होने के कारण उसे ट्रेस नहीं किया जा सका है।

एसीएमओ डा. रमेश कुंवर ने बताया कि जनपद में चीन से लौटे पांच लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इनमें कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं मिले हैं। उन्होंने बताया कि इंदौर, पुणे, देहरादून व ऋषिकेश में रह रहे लोगों की पता सहित जानकारी संबंधित राज्य व जिले को भेज दी गई है, जहां संबंधित क्षेत्र की स्वास्थ्य टीम इन लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण करेगी।  ऋषिकेश एम्स के जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल ने बताया कि मालवीय नगर वीरभद्र ऋषिकेश की कोरोना वायरस से आशंकित युवती की पूणे स्थित प्रयोगशाला से रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं दिल्ली निवासी किशोर की रिपोर्ट रविवार तक आने की संभावना है। एम्स अस्पताल में शुक्रवार को कोरोना वायरस की आशंकित कोई मरीज नहीं पहुंचा। 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.