Home उत्तराखंड

जनपद चमोली में पिरूल से कोयला हो रहा तैयार

सीमांत जनपद चमोली में टँगसा के पास विगत वर्ष से पिरूल से कोयला तैयार किया जा रहा है
केदारनाथ वन प्रभाग के अंतर्गत इस क्षेत्र में पिरूल की भट्टी से कोयला तैयार करना वन विभाग कि एक अनोखी पहल के रूप में देखी जा रही है। जिस तरह से आये दिन आगजनी की घटनाओं के लिए पिरूल वाले वन क्षेत्र ही सबसे ज्यादा सक्रिय होते है यदि भविष्य में भी पिरूल का इस प्रकार संग्रह करके उपयोग में लाया जाता रहेगा तो निश्चित रूप से वनाग्नि रोकने में यह कारगर कदम सिद्ध होगा।

बता दे कि टँगसा के पास लगी इस भट्टी से अब तक 1 कुंतल पिरूल से बनाया जा चुका है। जबकि इस वन क्षेत्र में पिछले साल करीब 100 कुंतल तक पिरूल का संग्रह किया गया। यह जानकारी देते हुए वन क्षेत्राधिकारी ने बताया कि यहाँ पर बनाये जाने वाले कोयला की गुणवत्ता अच्छी होने के साथ साथ कम कीमत पर भी उपलब्ध है जो कि मात्र ₹ 40 रुपया प्रति किलोग्राम की दर पर उपलब्ध है जिसका क्षेत्र के लोग काफी माँग भी कर रहे है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.