Home उत्तराखंड राजनीति

 मुख्यमंत्री ने घटिया सङक निर्माण मामले में लोनिवि के दो अभियन्ताओं को निलम्बित करने के निर्देश दिये

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने सख्त एक्शन लेते हुए घटिया सङक निर्माण मामले में लोनिवि के दो अभियन्ताओं को निलम्बित करने के निर्देश दिये है। इस सम्बन्ध में प्रमुख सचिव लोनिवि द्वारा दोनो अभियन्ताओं को निलम्बित किये जाने के आदेश भी निर्गत किये जा चुके हैं।
मुख्यमंत्री ने सोशल मीडिया पर वायरल हुए प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए दुगड्डा लोक निर्माण प्रांतीय खंड में लक्ष्मणझूला-कांडी-दुगड्डा-रथुवाढाब-धुमाकोट मोटर मार्ग के किमी 154-155 मे घटिया सड़क निर्माण के मामले में एई अजीत सिंह व जेई अनिल कुमार को सस्पेंड करने के निर्देश दिये थे। मुख्यमंत्री ने इस मामले की जांच भी बैठा दी है। उन्होंने कङा संदेश देते हुए कहा कि भ्रष्टाचार और लापरवाही को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। राज्य सरकार स्वच्छ, पारदर्शी व ईमानदार प्रशासन के लिए प्रतिबद्ध है। जिस स्तर पर भी कमी पाई जाएगी, वहां सख्त से सख्त एक्शन लिया जाएगा।

रिखणीखाल ब्लाक के देवेश ने यह तीन मिनट का वीडियो बनाया है। देवेश शुरू में ही कहता है कि वो जयहरीखाल व रिखणीखाल ब्लाक के बॉर्डर पर खड़े है। वीडियो में सड़क पर बिना काम किये ऊपर से तारकोल डाला हुआ है। यह डामर हाथ से ही उखड़ गए। यह रोड जयहरीखाल विकास खंड के बॉर्डर पर है। वीडियो में सीएम तीरथ रावत, पूर्व सीएम त्रिवेंद्र रावत व विधायक दलीप रावत का नाम लेकर घटिया डामरीकरण की कहानी सुनाई गई है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.