onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

उत्तराखंड कांग्रेस के नए अध्यक्ष गणेश गोदियाल की ताजपोशी के बहाने पार्टी ने 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल फूंका

उत्तराखंड कांग्रेस के नए अध्यक्ष गणेश गोदियाल की मंगलवार को ताजपोशी के बहाने पार्टी ने 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल फूंक दिया। वहीं गोदियाल ने भी यह मंशा जता दी कि सबको साथ लेने की पार्टी की उम्मीदों पर खरा उतरने की पूरी कोशिश की जाएगी। चेहरे को लेकर चल रही जंग का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सभी चमकते चेहरे हैं। वह सभी के सिपाही बनकर काम करेंगे। गोदियाल ने हुंकार भरी कि उत्तराखंड की जनता के साथ अन्याय का बदला लेने को भाजपा की सरकार को उखाड़ फेंका जाएगा। उधर, समारोह के दौरान कांग्रेस कार्यकर्त्ताओं के बीच धक्का-मुक्की भी हुई।

बीती 23 जुलाई को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनाए गए गणेश गोदियाल ने मंगलवार शाम प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में हुए समारोह में पदभार ग्रहण किया। श्रीनगर क्षेत्र से पूर्व विधायक गोदियाल ने अपने सीधे-सपाट और सहज लहजे से कार्यकत्र्ताओं को लुभाया तो नसीहत भी दी। उन्होंने कहा कि निष्ठाएं हमेशा फलती हैं। कांग्रेस के प्रति उनकी निष्ठा की वजह से उन्हें यह अहम जिम्मेदारी मिली। गणेश गोदियाल बीच-बीच में गढ़वाली में भी बोले। उन्होंने मंच पर मौजूद पूर्व अध्यक्षों किशोर उपाध्याय, प्रीतम सिंह और हरीश रावत से संयुक्त रूप से आशीर्वाद लिया।

गोदियाल को प्रदेश अध्यक्ष बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले और 2022 के चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री व कांग्रेस महासचिव हरीश रावत ने प्रधानमंत्री मोदी को निशाने पर लिया। उन्होंने कहा कि गुजरात माडल का हश्र कोरोना की दूसरी लहर में दिखाई दे चुका है। दिल्ली के डुगडुगीबाज अपना माडल उत्तराखंड पर थोपना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार बनने पर एक साल के भीतर 100 यूनिट बिजली मुफ्त देने की योजना लागू कर दी जाएगी। रावत जिस अंदाज में बोले, उन्होंने यही संदेश दिया कि अगले विधानसभा चुनाव में वह पार्टी की ढाल और तलवार दोनों ही रहने वाले हैं। लिहाजा युवाओं, महिलाओं, कर्मचारियों और किसानों को लेकर उन्होंने लुभावने वायदे भी कर दिए।

नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि कांग्रेस प्रदेश में भ्रष्टाचार रहित और पारदर्शी सरकार देने में सक्षम है। भाजपा सरकार ने पिछली कांग्रेस सरकार पर कई आरोप लगाए थे, लेकिन उनकी पुष्टि नहीं हो पाई। 2022 का चुनाव जीतने के लिए सड़क पर मिलकर संघर्ष करने की जरूरत है। प्रदेश प्रभारी देवेंद्र यादव ने कहा कि पार्टी ने अनुभव के साथ नौजवान चेहरे को आगे बढ़ाया है। हरीश रावत, प्रीतम सिंह और गणेश गोदियाल कार्यकत्र्ताओं के हीरो हैं। समारोह में चार कार्यकारी अध्यक्षों रंजीत रावत, प्रो जीत राम, तिलकराज बेहड़ और भुवन कापड़ी समेत कई विधायकों ने भी विचार रखे।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.