onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

भाजपा अब जल्द पार्टी नेताओं को मंत्री पद के दर्जे के समकक्ष दायित्वों की सौगात दे सकती

भाजपा अब जल्द पार्टी नेताओं को मंत्री पद के दर्जे के समकक्ष दायित्वों की सौगात दे सकती है। समझा जा रहा है कि आगामी 24 अप्रैल को राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष के साथ देहरादून में होने वाली भाजपा संगठन की बैठक में इस संबंध में निर्णय ले लिया जाएगा।उत्तराखंड के अलग राज्य बनने के बाद पांच विधानसभा चुनावों में पहली बार ऐसा हुआ कि किसी पार्टी को लगातार दूसरी बार सरकार बनाने का अवसर मिला। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने 70 में से 57 सीटों पर जीत दर्ज कर तीन-चौथाई से अधिक बहुमत हासिल किया।

इस विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने पूरी कोशिश की, लेकिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में भाजपा ने जोरदार तरीके से 47 सीटें जीत कर दो-तिहाई बहुमत प्राप्त किया। अब जबकि सभी मंत्रियों ने अपने-अपने विभागों के कामकाज को गति देनी शुरू कर दी है और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के उप चुनाव के लिए चम्पावत सीट भी रिक्त हो गई है, इस बात के संकेत मिल रहे हैं कि जल्द ही भाजपा नेताओं को दायित्व बांट दिए जाएंगे। दायित्व का आशय विभिन्न निगमों, आयोगों व समितियों में सरकार द्वारा नामित अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पदों से है, जिन्हें कैबिनेट या राज्य मंत्री का दर्जा होता है।किसी भी विधायक को दायित्वधारी नहीं बनाया गया। सूत्रों का कहना है कि इस बार भी संगठन से जुड़े पदाधिकारियों और विधानसभा चुनाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कार्यकत्र्ताओंको ही दायित्व सौंपे जाएंगे।भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष 24 अप्रैल को देहरादून में प्रदेश भाजपा नेताओं की बैठक लेंगे। सूत्रों के अनुसार इस बैठक में अन्य विषयों के साथ ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के उप चुनाव और दायित्व वितरण पर चर्चा की जा सकती है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.