स्पोर्ट्स

BCCI सीईओ जोहरी ने कहा, नए एफटीपी में टी20 को सार्थक मायने दिए गए हैं

Facebooktwittermailby feather

भारत का घरेलू मैचों के प्रसारण अधिकार का करार मार्च 2018 में होना है और सीईओ को विश्वास है कि आईपीएल की तरह इसके लिये बोर्ड को मोटी धनराशि मिलेगी.

भारत 37 टेस्ट मैच खेलेगा जिसमें 19 स्वदेश में और 18 विदेश में खेलेगा. (फाइ नई दिल्ली: बीसीसीआई सीईओ राहुल जोहरी को पूरा विश्वास है कि प्रस्तावित भविष्य का दौरा कार्यक्रम (एफटीपी) द्विपक्षीय टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों को सार्थक मायने प्रदान करेगा. जोहरी ने प्रस्तावित एफटीपी पेश किया है जिसमें अगले पांच साल के चक्र में घरेलू सरजमीं पर 81 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले जाएंगे जिसमें 27 टी20 अंतरराष्ट्रीय शामिल हैं. भारत इस दौर में 53 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलेगा जिसमें 26 मैच उसे विदेशों में खेलने हैं. जोहरी ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘हमने हर किसी से बात की और हमें फीडबैक मिला कि एकमात्र टी20 का मतलब कुछ भी नहीं है. अगर मुकाबला है तो उसके कुछ मायने होने चाहिए. इसलिए टी20 अंतरराष्ट्रीय को सार्थकता प्रदान करने के लिये हमने यह रवैया अपनाया. ’’ उनकी टीम ने नये एफटीपी पर महीनों तक काम किया जिसे अभी आईसीसी की मंजूरी मिलनी बाकी है.

भारत का घरेलू मैचों के प्रसारण अधिकार का करार मार्च 2018 में होना है और सीईओ को विश्वास है कि आईपीएल की तरह इसके लिये बोर्ड को मोटी धनराशि मिलेगी. स्टार इंडिया ने आईपीएल के अधिकार 16,347 करोड़ रूपये में खरीदे हैं. जोहरी ने कहा, ‘‘हमने एक संतुलित एफटीपी पेश किया है जो कि किसी भी संभावित प्रसारक के सामने पर्याप्त सार्थक संदर्भ रखता है. जिस तरह से आईपीएल मीडिया अधिकारों में बहुत अधिक दिलचस्पी दिखायी गयी, उसी तरह की उम्मीद हमें इसमें भी है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पूरी योजना और सब कुछ तैयार है. हमने प्रसारण के अवसरों को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया है.’’

प्रस्तावित एफटीपी में भारत 37 टेस्ट मैच खेलेगा जिसमें 19 स्वदेश में और 18 विदेश में खेलेगा. जोहरी ने कहा, ‘‘सार्थक टेस्ट क्रिकेट खेलने के प्रति बीसीसीआई का रवैया स्पष्ट है और वह इसके प्रति प्रतिबद्ध है. इसे आगे भी बरकरार रखा जाएगा. हमारे लगभग आधे मैच इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका और आस्ट्रेलिया से होना है. हम हालांकि हर किसी से खेलेंगे. हमने जो एफटीपी तैयार किया है उसमें स्वदेश और विदेश में पर्याप्त मैच खेले जाने हैं.’’ बीसीसीआई इसके अलावा चाहता है कि इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान कोई भी अन्य टीम अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेले जो कि नियम के बजाय परंपरा हो. जोहरी को विश्वास है कि इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) भी जल्द ही इसके लिये तैयार हो जाएगा. ईसीबी आईपीएल के दौरान अभी कोई श्रृंखला खेलता रहा है. जोहरी ने कहा, ‘‘आपको इसकी सराहना करनी होगी कि उत्तरी और दक्षिण गोलार्द्ध के लिये क्रिकेट कैलेंडर थोड़ा भिन्न है. दक्षिण गोलार्द्ध में रहने वाले देश अमूमन एक ही समय में क्रिकेट खेलते हैं वहीं उत्तरी गोलार्द्ध के देशों के लिये थोड़ा भिन्न है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अब सवाल यह है कि हम कैसे किसी के कैलेंडर में रुकावट पैदा किये बिना कैसे आगे बढ़ते हैं और फिर भी सर्वश्रेष्ठ हासिल करते हैं. ईसीबी के साथ बातचीत चल रही है. जब हम अंतिम फैसला करेंगे तो बोर्डों के बीच सद्भावना और भरोसे को सर्वोपरि रखेंगे.’’

पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि दिन रात्रि टेस्ट मैच लंबे प्रारूप का भविष्य हैं. इस बारे में जब जोहरी से पूछा गया, उन्होंने कहा, “मेरा काम हितधारकों को सर्वश्रेष्ठ मूल्य उपलब्ध कराना है. यह क्रिकेट से जुड़ा फैसला है और बीसीसीआई कार्यकारिणी के अधिकार क्षेत्र में आता है. वे निर्देश देंगे और हम उस के अनुसार काम करेंगे.

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.