Home उत्तराखंड राजनीति स्लाइड

उत्तराखंड प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ आंदोलनरत जनरल ओबीसी इम्पलाइज एसोसिएशन को अब तक भाजपा के कई विधायकों का समर्थन

उत्तराखंड में प्रमोशन में आरक्षण के खिलाफ आंदोलनरत उत्तराखंड जनरल ओबीसी इम्पलाइज एसोसिएशन को अब तक भाजपा के कई विधायकों ने समर्थन दिया है। विधायकों से लेकर ग्राम प्रधान भी आंदोलन के समर्थन में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत को पत्र लिख रहे हैं। प्रमोशन पर लगी रोक हटाने की मांग को लेकर प्रदेश के जनरल ओबीसी कर्मचारी दो मार्च से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। भाजपा विधायक उमेश शर्मा काऊ, गणेश जोशी, महेंद्र भट्ट, दलीप सिंह रावत, विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान के बाद शुक्रवार को रामनगर के विधायक दीवान सिंह बिष्ट ने भी आंदोलन का समर्थन करते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से प्रमोशन पर लगी रोक हटाने का आग्रह किया।

रुद्रप्रयाग जनपद की तुलंगा पंचायत प्रधान नवीन सिंह रावत ने जनरल ओबीसी कर्मचारियों के आंदोलन के समर्थन में सीएम को पत्र लिख कर सुप्रीम कोर्ट के आदेशों का पालन करने का आग्रह किया है। इसके साथ ही आजाद मंच, अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद ने आंदोलन का समर्थन किया है।  भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कोरोना वायरस के संक्रमण और बजट सत्र का हवाला देते हुए हड़ताल कर रहे कर्मचारियों से काम पर लौटने की अपील की है। उन्होंने विश्वास दिलाया है कि विधानसभा बजट सत्र के बाद सरकार कर्मचारियों की मांगों का समाधान तलाश लेगी।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि वर्तमान परिस्थितियों में कर्मचारियों की हड़ताल राज्य के लिए आत्मघाती साबित होगी। सरकार कोरोना वायरस से निपटने की कोशिश में लगी है। सरकार का यह प्रयास कर्मचारियों की सहभागिता के बिना संभव नहीं है।ऐसे में यदि प्रदेश में कर्मचारियों की हड़ताल जारी रहती है तो उसका असर पड़ना स्वाभाविक है। सभी हड़ताली कर्मचारी संगठनों को प्रदेश की जनता के व्यापक हित को देखते आंदोलन स्थगित कर काम पर लौटना चाहिए।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.