onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

मुख्यमंत्री धामी ने प्रदेश के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में 52 करोड़ रुपये से होने वाले विकास कार्यों को स्वीकृति प्रदान की

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश के विभिन्न विधानसभा क्षेत्रों में 52 करोड़ रुपये से होने वाले विकास कार्यों को स्वीकृति प्रदान की है। इसके तहत बदरीनाथ विधानसभा में घांघरिया से लेकर हेमकुंड साहिब पैदल मार्ग को 1.92 करोड़ रुपये स्वीकृत किए गए हैं।मुख्यमंत्री ने विधानसभा क्षेत्र सल्ट के अंतर्गत ग्राम सौराल तक के मोटर मार्ग को 25.50 लाख, केहडगांव जगोई शिव मंदिर से होते हुए कृषि विज्ञान केंद्र तक मोटर मार्ग व पुल निर्माण कार्य को 11.30 करोड़ रुपये, विधानसभा क्षेत्र रामनगर के अंतर्गत रामनगर रिंग रोड़ के पुनर्निर्माण एवं सुधार कार्य के लिए 7.51 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है। उन्होंने विधानसभा क्षेत्र च्वालापुर के अंतर्गत हद्दीपुर ग्रांट से शेखवाला च्योतिगढ़ तक मोटर मार्ग निर्माण को 1.76 करोड़ रुपये, विधानसभा रुद्रपुर के अंतर्गत एनएच-74 से एनएच-87 तक मार्ग निर्माण को 72 लाख रुपये, विधानसभा क्षेत्र बदरीनाथ में मुख्यमंत्री घोषणा के अंतर्गत दो निर्माण कार्यों के लिए 5.69 करोड़ रुपये, विधानसभा खटीमा के अंतर्गत चार निर्माण कार्यों के लिए 2.17 करोड़ रुपये स्वीकृत किए हैं।

मुख्यमंत्री ने विधानसभा क्षेत्र अल्मोड़ा के अंतर्गत हवालबाग में साईं मंदिर से धार की तूनी तक मार्ग में डामरीकरण एवं सुधारीकरण के लिए 66.31 लाख रुपये, विधानसभा प्रतापनगर के तीन विकास कार्यों के लिए 1.20 करोड़ रुपये, विधानसभा क्षेत्र धर्मपुर के अंतर्गत दो निर्माण कार्यों के लिए 1.20 करोड़ रुपये दिए हैं। विधानसभा क्षेत्र लोहाघाट में सांगू धिंघारूकोट मोटर मार्ग के विस्तार कार्य के लिए 49.70 करोड़ रुपये, विधानसभा क्षेत्र नानकमत्ता के अंतर्गत दो कार्यों के लिए 1.20 करोड़ रुपये विधानसभा क्षेत्र चमोली के दो निर्माण कार्यों के लिए 1.44 करोड़ रुपये मंजूर किए।विधानसभा क्षेत्र कपकोट के चार निर्माण कार्यों के लिए 1.78 करोड़ रुपये, विधानसभा क्षेत्र झबरेड़ा के अंतर्गत 21 कार्यों के लिए 11.67 करोड़ रुपये, विधानसभा क्षेत्र कर्णप्रयाग के अंतर्गत ग्राम रतूड़ा गांव से झलमंगरा तक लिंक रोड के निर्माण कार्य को 19.68 लाख रुपये की मंजूरी दी। विधानसभा क्षेत्र घनसाली में चोठारा से हूण तक मोटर मार्ग के नव निर्माण को 73.55 करोड़ रुपये की प्रशासकीय व वित्तीय स्वीकृति प्रदान की गई है। वहीं, मुख्यमंत्री ने बालगंगा महाविद्यालय केमर, टिहरी गढ़वाल से संचालित स्ववित्त पोषित पांच विषयों को अनुदान सूची में शामिल किए जाने व सात पदों के सृजन को भी स्वीकृति प्रदान की है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.