गलवान में खूनी झड़प के बाद तीनों भारतीय सेना हाई अलर्ट पर

Facebooktwittermailby feather

भारत और चीन के सैनिकों के बीच सोमवार रात हुई खूनी झड़प के बाद एक बाद फिर दोनों देशों के बीच तनाव का माहौल है। बढ़ते तनाव के बीच एलएसी पर हाई अलर्ट है। सेना को भी पूरी तरह तैयार कर दिया गया है। उत्तरी, पश्चिमी और पूर्वी भारत के हर एयरबेस को हर आपातस्थिति के लिए तैयार कर दिया गया है। इसके अलावा नौसेना के जहाज भी तैयार हैं और समुद्र की गश्त तेज कर दी गई है। उधर, उत्तराखंड के जोशीमठ में सेना का मूवमेंट बढ़ गया है। सीमा पर आईटीबीपी की और टुकड़ियां भेजी गईं हैं।

सूत्रों के मुताबिक, सरकार ने तीनों सेनाओं को किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा है और सेना को ‘इमरजेंसी पावर’ दे दी गई है। सरकार ने मौजूदा परिस्थिति के अनुसार सीमा पर सैनिकों और हथियारों की मौजूदगी का पूरा अधिकार दे दिया है। माना जा रहा है कि सीमा पर सैनिकों की अधिक मौजूदगी के बाद ही बातचीत की मेज पर भारत का पलड़ा चीन के बराबर हो सकता है।

केंद्र ने सेना को कहा है कि वे मौजूदा परिस्थिति को देखते हुए स्वयं फैसला ले सकते हैं। बता दें कि सोमवार रात एलएसी पर मौजूद गलवान घाटी में भारत और चीन सेना के बीच खूनी संघर्ष हुआ, जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे। सेना के सूत्रों के अनुसार भारत की पूरी कोशिश है कि वह सीमा पर डटे चीनी सैनिकों को भारतीय सेना की मजबूती का प्रदर्शन करे।