onwin giris
Home उत्तराखंड राजनीति

कांग्रेस महासचिव हरीश रावत एक बार फिर पंजाब कांग्रेस के संकट को लेकर सक्रिय; जाने पूरी खबर

उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस महासचिव हरीश रावत एक बार फिर पंजाब कांग्रेस के संकट को लेकर सक्रिय हो गए हैं। रावत पंजाब के प्रभारी हैं, लिहाजा इस राजनीतिक घटनाक्रम में उनकी भूमिका अहम मानी जा रही है। रावत बुधवार को इस सिलसिले में दिल्ली या पंजाब जा सकते हैं।पंजाब में मंगलवार को 30 कांग्रेस विधायकों के मुख्यमंत्री के खिलाफ मोर्चा खोल देने के बाद देहरादून में कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत के आवास पर हलचल बढ़ गई। हालांकि दोपहर में उन्होंने कई सार्वजनिक कार्यक्रमों में हिस्सा लिया। शाम को जागरण से बातचीत में उन्होंने जानकारी दी कि पंजाब के विधायकों का एक प्रतिनिधिमंडल रात तक उनसे मिलने देहरादून आ रहा है। बाद में उन्होंने विधायकों के देहरादून आने का कार्यक्रम निरस्त होने की बात कही।

रावत ने कहा कि विधायक संभवतया बुधवार को दिल्ली जाकर पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल से मुलाकात कर सकते हैं।रावत ने कहा कि उनकी कोशिश रहेगी कि विधायकों में असंतोष के मामले का समाधान उनके ही स्तर पर हो जाए, लेकिन जरूरत हुई तो उन्हें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से भी मिलवाया जा सकता है। इसमें गलत कुछ भी नहीं है कि विधायक पार्टी अध्यक्ष से मिलना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि राजनीति में इस तरह की घटनाएं साधारण ही होती हैं। सूत्रों के मुताबिक रावत देहरादून से पंजाब के राजनीतिक हालात पर नजर रखे हुए हैं। पार्टी विधायकों के साथ ही पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सिद्धू से भी उनकी फोन पर बात हुई है। मुख्यमंत्री कै. अमरिंदर सिंह समर्थक विधायकों से भी उन्होंने बात की। सूत्रों का कहना है कि रावत बुधवार को दिल्ली या पंजाब के लिए रवाना हो सकते हैं।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.