Home अंतर-राष्ट्रीय देश

गलवान वैली हिंसा में 45 चीनी सैनिक मारे गए थे, रूसी समाचार एजेंसी TASS ने किया खुलासा

रूस की समाचार एजेंसी तास ने एक बड़ा खुलासा करते हुए बताया है कि 15 जून को गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों के साथ हुई झड़प में चीन के 45 सैनिक मारे गए थे। LAC पर बीते कई सालों में हुई इस पहली खूनी झड़प में भारत के 20 सैनिक शहीद हुए थे। हालांकि चीन ने अभी तक इस बात की जानकारी नहीं दी है कि झड़प में उसके कितने सैनिकों की मौत हुई थी। बता दें कि रूसी समाचार एजेंसी ने यह खुलासा ऐसे समय पर किया है जब दोनों देश अपनी-अपनी सेनाओं को पैंगोंग झील से हटाने पर सहमत हो गए हैं।

गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद जहां भारत ने अपने शहीद हुए सैनिकों के बारे में पूरी जानकारी दी थी, वहीं चीन ने अपने सैनिकों की मौत पर कुछ नहीं कहा था। साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर के मुताबिक, चीन ने ऐसा इसलिए किया था क्योंकि उसकी अमेरिका के साथ एक अहम बैठक थी और वह इस घटना को कमतर दिखाने की कोशिश कर रहा था। इसीलिए चीन ने इस घटना पर चुप्पी साधे रखी थी। इस झड़प के बाद चीनी सोशल मीडिया के हवाले से मृत सैनिकों की कब्रों के फोटो भी सामने आए थे, लेकिन चीन ने फिर भी इस पर कोई बात नहीं की।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.