Home बिज़नेस

1 जुलाई से हुए ये 8 बदलाव, ATM से कैश निकालने से लेकर PF निकासी और म्यूचुअल फंड तक के बदले नियम

1 जुलाई से कुछ ​नए नियमों के साथ-साथ कुछ पुराने नियम फिर से अमल में आ रहे हैं। PF का पैसा निकालने का नियम बदला।लॉकडाउन के बीच लोगों को कैश की दिक्कत न हो, इसलिए सरकार ने PF का पैसा निकालने की अनुमति दी थी। ऐसा करने के लिए आखिरी तारीख 30 जून थी। PF अकाउंट होल्डर फंड में कुल जमा राशि का 75 फीसदी या बेसिक सैलरी और महंगाई भत्ते का तीन गुना, दोनों में से जो कम हो वह निकल सकता था। अब 1 जुलाई से इसकी सुविधा बंद हो गई है।

APY के लिए ऑटो डेबिट फैसिलिटी। पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (PFRDA) ने अटल पेंशन योजना (APY) के लिए ऑटो डेबिट फैसिलिटी को 30 जून 2020 तक के लिए रोक दिया था। यानी जो लोग APY में निवेश कर रहे हैं, उनके सेविंग्स अकाउंट से इस स्कीम के लिए योगदान का पैसा अपने आप 30 जून तक नहीं कटने वाला था। लेकिन अब 1 जुलाई से APY के लिए ऑटो डेबिट फैसिलिटी फिर शुरू हो गई है इस स्कीम में मासिक या तिमाही आधार पर योगदान होता है।

ATM से नकद निकासी। 30 जून तक किसी भी बैंक के डेबिट/ATM कार्ड से किसी भी बैंक ATM से नकद निकासी पर कोई चार्ज नहीं लग रहा था। लेकिन अब यह छूट खत्म हो चुकी है। अब दूसरे बैंकों के ATM से एक निश्चित संख्या में ही फ्री नकद निकासी की जा सकती है। उस संख्या के खत्म होने के बाद ट्रांजेक्शन करने पर चार्ज देना होगा।

बचत खाते में मिनिमम बैलेंस। सरकार ने 30 जून तक बचत खाते में मिनिमम मंथली बैलेंस मेंटेन रखने की जरूरत को भी खत्म किया हुआ था। नियम है कि अगर ग्राहक के बचत खाते में मिनिमम बैलेंस मौजूद नहीं हुआ तो बैंक उससे चार्ज लेते हैं। मेट्रो सिटी, शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण इलाकों के हिसाब से अलग-अलग बैंकों में बचत खाते में मिनिमम बैलेंस रखने की लिमिट अलग-अलग है। आज से फिर से बचत खाते में मिनिमम मंथली बैलेंस बरकरार रखने की अनिवार्यता लागू हो गई है।

PNB सेविंग्स अकाउंट पर कम ब्याज। पंजाब नेशनल बैंक (PNB) ने बचत खाते पर ब्याज दरों में 0.50 फीसदी की कटौती की है। 1 जुलाई से बैंक के बचत खाते पर अधिकतम 3.25 फीसदी का सालाना ब्याज मिलेगा। अब PNB के बचत खाते में 50 लाख रुपये तक के बैलेंस पर 3 फीसदी सालाना और 50 लाख से ज्यादा के बैलेंस पर 3.25 फीसदी सालाना की ब्याज दर मिलेगी।

LPG सिलेंडर महंगा देश की ऑयल मार्केटिंग कंपनियों (HPCL, BPCL, IOC) ने बिना सब्सिडी वाले LPG रसोई गैस सिलेंडर की कीमतें बढ़ा दी हैं। 14.2 किलोग्राम वाले गैर-सब्सिडी वाले LPG सिलेंडर के दाम दिल्‍ली में 1 रुपये बढ़ा दिए गए हैं। अब दिल्ली में नई कीमतें बढ़कर 594 रुपये हो गई हैं। वहीं अन्य शहरों की बात करें तो कोलकाता में दाम 4.50 रुपये, मुंबई में 3.50 रुपये और चेन्नई में 4 रुपये बढ़े हैं। इसके बाद 14.2 किलोग्राम वाले LPG सिलेंडर के दाम कोलकाता में 620.50 रुपये, मुंबई में 594 रुपये और चेन्‍नई में 610.50 रुपये हो गए हैं। हालांकि 19 किलोग्राम वाले सिलेंडर की कीमतों में कटौती की गई है। 19 किलो वाले LPG सिलेंडर की कीमत दिल्ली में 1139.50 रुपये से घटकर 1135 रुपये पर आ गई है। वहीं, मुंबई में 19 किलो वाले LPG सिलेंडर की कीमत 1197.50 रुपये से घटकर 1193 रुपये पर आ गई है।

म्यूचुअल फंड पर लगेगी स्टांप ड्यूटी। अगर आप 1 जुलाई से कोई म्यूचुअल फंड खरीदते हैं तो उस पर स्टांप ड्यूटी देनी होगी। अगर SIP (सिस्टमेटिक इनवेस्टमेंट प्लान) और STP (सिस्टमेटिक ट्रांसफर प्लान) खरीदते हैं तो भी स्टांप ड्यूटी चुकानी पड़ेगी। यह ड्यूटी हर तरह के म्यूचुअल फंड पर देनी होगी, फिर चाहे आप डेट म्यूचुअल फंड खरीदें या इक्विटी म्यूचुअल फंड। इस स्टांप ड्यूटी का सबसे ज्यादा असर डेट फंड्स पर देखने को मिलेगा, जो आम तौर पर छोटी अवधि के लिए होते हैं।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.