onwin giriş
Home उत्तराखंड जॉब

हाईकोर्ट ने दी 37 हजार डीएलएड अभ्यर्थी बड़ी राहत

नैनीताल हाईकोर्ट ने डीएलएड यानी एनआईओएस प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों को सहायक अध्यापक पद पर नियुक्ति के लिए काउंसिलिंग में शामिल करने के निर्देश दिए हैं।

इससे पूर्व कोर्ट ने इन अभ्यर्थियों को अध्यापक भर्ती प्रक्रिया में शामिल होने से रोकने वाले 10 फरवरी 2021 के शासनादेश पर अगले आदेश तक लगा दी थी। कोर्ट के नए आदेश से करीब 37 हजार डीएलएड अभ्यर्थियों को राहत मिलेगी।

कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश संजय कुमार मिश्रा एवं न्यायमूर्ति आरसी खुलवे की खंडपीठ के समक्ष नैनीताल निवासी नंदन सिंह बेहरा, निधि जोशी, गंगा देवी, सुरेश चंद्र गुरुरानी संगीता देवी और गुरमीत सिंह की याचिका पर सुनवाई हुई। उन्होंने राज्य सरकार के 10 फरवरी 2021 के शासनादेश को चुनौती दी थी। याचिकाकर्ता के वकील सी डी बहुगुणा ने कोर्ट को बताया कि इन अभ्यर्थियों ने

2019 में एनआईओएस के दूरस्थ शिक्षा माध्यम में डीएलएड प्रशिक्षण प्राप्त किया है। उनकी इस डिग्री को मानव संसाधन भारत सरकार और एनसीटीई ने मान्यता दी है। 16 दिसंबर 2020. को मानव संसाधन मंत्रालय भारत सरकार, छह जनवरी 2021 को एनसीटीई और 15 जनवरी 2021 को शिक्षा सचिव ने सहायक अध्यापक प्राथमिक की भर्ती में शामिल के लिए कहा था। सरकार ने 10 फरवरी 2021 को यह कह उन्हें काउंसिलिंग से बाहर कर दिया कि कोई स्पष्ट गाइड लाइन नहीं है। याचिकाकर्ताओं के समस्त शैक्षणिक प्रमाण पत्र जमा हो चुके थे। सहायक अध्यापक प्राथमिक में 2645 पदों पर भर्ती प्रक्रिया जारी है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.