उत्तराखंड स्लाइड

हर स्कूल वेन में सीसीटीवी कैमरे लगाना आनिवार्य, डीएम को सौंपी ये अहम जिम्मेदारी :हाईकोर्ट का आदेश

उत्तराखंड में स्कूली वाहनों में बढ़ती छेड़छाड़ की घटनाओं का हाईकोर्ट ने संज्ञान लेते हुए, अभी निजी स्कूलों को वाहनों में सीसीटीवी व जीपीएस सिस्टम लगाने के आदेश दिए हैं। साथ ही सभी निजी स्कूल प्रबंधकों को आदेशों का अनुपालन सुनिश्चित करने को कहा गया

कोर्ट ने आदेश में कहा कि अधिकारियों को इसकी मॉनीटरिंग करनी होगी जिसमे रोजाना चेकिंग की जिम्मेदारी एसडीएम की होगी।

 

हल्द्वानी निवासी ने बच्चों के खिलाफ बढ़ते अफराधों के मामले में हाईकोर्ट में जनहित याचिका दायर की थी, जिसके बाद कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति राजीव शर्मा व न्यायमूर्ति शरद कुमार शर्मा की खंडपीठ ने इस पर सुनवाई करते हुए बच्चों की सुरक्षा के संबंध में व्यवस्था दी।

अदालत ने स्कूल के कर्मचारियों के सत्यापन के आदेश भी दिए हैं। हल्द्वानी प्रकरण में कोर्ट ने नैनीताल के एसएसपी को 48 घंटे के भीतर संबंधित स्कूल के प्रबंधक पर मुकदमा दर्ज कराने के आदेश दिए हैं।

हाईकोर्ट ने जिलाधिकारियों की जिम्मेदारियां भी तय की उन्हें हर पंद्रह दिन में स्कूलों का अनिवार्य रूप से निरीक्षण करने के आदेश दिए गए हैं। स्कूली वाहन में महिला कर्मचारी की नियुक्ति करें, जो बच्चों को वाहन में बैठाएं और उतारें, स्कूली वाहनों में लगे सीसीटीवी सीधे प्रिंसिपल ऑफिस से कनेक्टेड हों।

स्कूली बच्चों को ले जाने वाले प्रत्येक वाहन में जीपीएस लगाएं बच्चों को इलेक्ट्रॉनिक चिपयुक्त आइ कार्ड दें, जिससे की बच्चों की लोकेशन उनके अभिभावकों को मिलती रहे, सभी जिलाधिकारी स्कूल के कमरों व परिसरों में सीसीटीवी लगवाएं जिलाधिकारी हर 15 दिन में निजी स्कूलों का निरीक्षण करें।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.