उत्तराखंड

सरकार ने मांग नहीं मानी तो आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे प्रभावित

रुद्रप्रयाग: मुआवजा और पुनर्वास की माँग को लेकर चारधाम परियोजना संघर्ष समिति का धरना तीसरे दिन भी जारी रहा। मुख्य बाजार स्थित हनुमान चैक पर धरना देते हुए आंदोलनकारियों ने स्पष्ट किया कि सरकार ने प्रभावितों की मांगों पर सकारात्मक हल नहीं निकाला तो आंदोलनकारी पहाड़ में जनांदोलन शुरू कर देंगे।

आंदोलन को समर्थन देने के लिए तीसरे दिन भीरी बाजार से बड़ी संख्या में प्रभावित व्यापारी और भवन स्वामी पहुंचे। इस मौके पर पूर्व ब्लॉक प्रमुख घनानंद सती और सुरेंद्र सिंह बिष्ट ने कहा कि चारधाम परियोजना के चलते पहाड़ के व्यापारियों और भवन स्वामियों पर बहुत बड़ी मार पड़ने जा रही है।

सरकार प्रभावितों की सुध नहीं ले रही है। उन्होंने कहा कि पूरे राजमार्ग पर हिल साइड रोड चैड़ी हो रही है, लेकिन भीरी में इसके विपरीत सड़क के निचले हिस्से में सड़क चैड़ीकरण का सर्वे किया जा रहा है। हम चाहते हैं कि सरकार सड़कों को चैड़ा करे, इसकी एवज में हमें मुआवजा दिया जाय और व्यापारियों को पुनर्स्थापित किया जाय। इसके साथ ही भीरी में बाईपास का विकल्प भी खुला है। सरकार पर पर भी मंथन कर सकती है। इससे एक बड़ा बाजार उजडने से बच जाएगा।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.