लखनऊ में लोकभवन के बाहर आत्मदाह का प्रयास करने वाली मां-बेटी में से मां की मौत

Facebooktwittermailby feather

बीते माह 9 मई को उत्तर प्रदेश के अमेठी स्थित जामों कोतवाली क्षेत्र के कस्बा निवासी सोफिया व अलगू के बीच नाली के विवाद को लेकर मारपीट हो गई थी। जिसके बाद सोफिया की बेटी गुड़िया की ओर से अलगू के बेटे अर्जुन सहित चार लोगों पर छेड़छाड़ का केस दर्ज कराया गया था। वहीं, अर्जुन की तहरीर पर सोफिया, गुड़िया सहित तीन लोगों पर भी मुकदमा दर्ज किया गया था। तत्पश्चात 17 जुलाई को सोफिया व गुड़िया ने लखनऊ में लोकभवन के बाहर पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाते हुए आत्मदाह का प्रयास किया। जिसमें सोफिया गंभीर रूप से जल गई थी। पुलिस ने सोफिया व उसकी बेटी को सिविल अस्पताल में भर्ती कराया था। इलाज के दौरान सोफिया की बुधवार को मौत हो गई। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ. आशुतोष दुबे ने बताया, “आत्मदाह करने वाली मां-बेटी में मां की हालत पहले से ही बहुत खराब थी। यहां डाक्टरों की देखरेख में इलाज हो रहा था। लेकिन आज उनका निधन हो गया है। शव को पोस्टामॉर्टम के लिए भेजा गया है। सिविल अस्पताल के निदेशक डॉ. डी एस नेगी के अनुसार महिला में इंफेक्शन फैल गया था। सेप्टीसीमिया की वजह से उसकी मौत हो गयी।
इस मामले अमेठी में तीन व लखनऊ में चार पुलिस कर्मियों के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई भी हुई। मां-बेटी को आत्मदाह के लिए प्रेरित करने वाले एक नेता सहित तीन को पुलिस ने जेल भेजा। बाकी की तलाश की जा रही है।