महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 35 हजार के पार, अकेले मुंबई में 21 हजार से ज्यादा केस

Facebooktwittermailby feather

देश में कोरोनावायरस (Coronavirus) का कहर बढ़ता जा रहा है. भारत में कोरोना से 96 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं वहीं 3 हजार से ज्यादा लोगों की अब तक मौत हो चुकी है. इस बीच कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र में इसके संक्रमितों का आकंड़ा 35 हजार के पार पहुंच गया है. सोमवार को महाराष्ट्र में कोरोना के 2033 नए मामले सामने आए और इस दौरान 51 लोगों की जान गई. महाराष्ट्र में संक्रमितों का कुल आंकड़ा अब 35058 हो गया है. वहीं, मुंबई में कोरोना के 1,185 नए मामले सामने आए, जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या 21,335 तक पहुंच गई और 23 मरीजों की मौत के साथ ही मृतकों का आंकड़ा 757 तक जा पहुंचा. महाराष्ट्र में अब तक 1249 लोगों की कोरोनावायरस से मौत हो चुकी है.
वहीं, एशिया के सबसे बड़े स्लम मुंबई के धारावी में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 85 नए मामले सामने आए. इसके साथ ही यहां संक्रमितों की संख्या 1327 हो गई. रविवार को भी धारावी में 44 कोरोना पॉजिटिव मिले थे. वहीं पिछले 24 घंटे में यहां इस वायरस के संक्रमण से किसी की जान नहीं गई है और मरने वालों का आंकड़ा 56 है.

इससे पहले आज ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि कोरोनावायरस के बढ़ते मामले को देखते हुए राज्य में लॉकडाउन में छूट देना असंभव है. हालांकि ग्रीन जोन में पहले से अधिक रियायत दी जाएगी. ग्रीन जोन में भी याथस्थ‍िति बनाए रखना चुनौती है, फिर भी हमारी सरकार ने 50,000 उद्योगों को खोलने की इजाजत दे दी है. उन्होंने कहा कि हम धीरे-धीरे हम ग्रीन जोन में रियायत देना शुरू कर रहे हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि लॉकडाउन के कारण हम कोरोनावायरस के मामले को कंट्रोल करने में कामयाब रहे हैं, लेकिन इसकी चेन को तोड़ने की अभी भी हम कोशिश कर रहे हैं.

बता दें कि भारत में Covid-19 संक्रमितों का कुल आंकड़ा 96,000 के पार पहुंच गया है. स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) के आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोरोनावायरस से अब तक 3029 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि संक्रमितों की संख्या 96,169 हो गई है. वहीं, पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5242 नए मरीज मिले हैं और 157 लोगों की जान गई है. 24 घंटों में कोरोना के मामले में यह अब तक का सबसे बड़ा उछाल है. हालांकि, राहत की बात यह है कि 36,824 मरीज कोरोना को मात देने में कामयाब हुए हैं. रिकवरी रेट सुधर कर 38.29 प्रतिशत पर पहुंच गया है.