Home उत्तराखंड स्लाइड

मंत्री हरक सिंह रावत के खिलाफ हुआ लैंसडाउन में मुकदमा दर्ज

Share and Enjoy !

प्रभारी मंत्री पौड़ी #हरकसिंहरावत जी के इशारे पर डाला गया ग्रामीणों के पेयजल पर डाका इसका हवाला देते हुए आज लैंसडाउन में स्थानीय लोगों ने
(#waterAndCollectionDistributionAct) वाटर एंड कलेक्शन डिस्ट्रीब्यूशन एक्ट के तहत उन पर मुकदमा दर्ज किया इस मौके पर उनके साथ जयहरीखाल से ब्लॉक प्रमुख #श्रीदीपकभंडारी जी भी मौजूद रहे।
जिस पर #दीपक_भंडारी जी ने कहा कि #समखाल स्थित वृद्धाश्रम के निकट एक सार्वजनिक हैंडपंप लगा हुआ है यह एकमात्र हैंडपंप है जो कि नजदीकी गांव जिनमें ओडल, खुंडोली, सारी ,पौखाल, समखाल स्थित वृद्धाश्रम (जहां पर वर्तमान में लगभग 40 लोग रह रहे हैं) आदि के गांव को पानी की आपूर्ति की जाती है और उस हैंडपंप पर 250 परिवार निर्भर है।

स्थानीय लोगों का यह आरोप है कि उत्तराखंड सरकार में माननीय मंत्री #डॉहरकसिंह_रावत जी इस पर पूर्ण रूप से संलिप्त हैं यहां पर मंत्री जी की बहू (अनुकृति गुसाईं ) का एक निजी #NGO (महिला उत्थान एवं बाल कल्याण संस्थान) है जिसकी वह अध्यक्षा है,

जिस पर पानी की पूर्ति के लिए इस हैंडपंप का सहारा लिया जा रहा है वह बिना किसी जानकारी के इस हैंडपंप पर मोटर लगाकर इसका पूरा पानी अपने #NGO को सप्लाई की जा रही है।
इस महामारी संकट के दौर में जहां प्रदेश सरकार की तरफ से माननीय मंत्री हरक सिंह जी को प्रभारी मंत्री बनाया गया है

वही मंत्री जी द्वारा हैंडपंप पर मोटर लगवा कर आम जनता के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।

“”बता दें कि माननीय मंत्री जी इसी क्षेत्र से 10 वर्षों तक विधायक रह चुके हैं तो फिर आज ऐसा क्यों कि उसी जनता का कंठ का पानी सुखाने वाला वह व्यक्ति है जिसे इसी क्षेत्र की जनता ने दो बार विधानसभा पहुंचाया हो।””

कल भी उस क्षेत्र में स्थानीय लोगों द्वारा विरोध प्रकट किया गया था जिस पर उपजिलाधिकारी जी के आश्वासन के बाद मोटर का काम रोक दिया गया था। मगर रात को दोबारा से मोटर लगाकर चोरी छुपे उससे अपनी निजी संस्थानों पर पानी की पूर्ति की जा रही थी।

आज लैंसडाउन में धरना प्रदर्शन पर दीपक भंडारी
(ब्लाक प्रमुख जयहरीखाल), दीपक बौंठियाल (सामाजिक कार्यकर्ता), बृजमोहन गुसाईं (सामाजिक कार्यकर्ता), सुरेंद्र सिंह रावत , गंगा सिंह नेगी, राम सिंह नेगी, लक्ष्मण सिंह नेगी, धर्मेंद्र सिंह नेगी (विधायक प्रतिनिधि लैंसडाउन), शिवचरण सिंह (पूर्व प्रमुख जयहरीखाल), कुलदीप सिंह गुसाईं (रिटायर्ड कर्नल)‌, विनोद गुसाईं, अर्जुन सिंह, राजेंद्र सिंह, देवेंद्र सिंह रौतेला (सामाजिक कार्यकर्ता), दीपक बिष्ट ( ग्राम प्रधान औडला), मुन्ना कोटला (समाजिक कार्यकर्ता) आदि लोग शामिल हुए।

Share and Enjoy !

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.