प्रधानमंत्री ‘वन नेशन-वन राशन कार्ड’ योजना का ट्रायल शुरू

Facebooktwittermailby feather

वन नेशन-वन राशन कार्ड’ योजना में केन्द्र सरकार ने उत्तराखंड के 23 विभिन्न राज्यों को नेटवर्क से जोड़ा है, ‘वन नेशन-वन राशन कार्ड’ योजना की सुविधा केवल NFSA (राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना) वाले कार्ड धारकों को ही मिल पाएगी, इन कार्ड धारकों की संख्या 13 लाख 30 हजार है।
खाद्य सचिव सुशील कुमार ने बताया कि राज्य में ‘वन नेशन-वन राशन कार्ड’ योजना का सफल ट्रायल हो चुका है। और कुछ कनेक्टिविटी की वजह से समस्या आ रही है, उसे भी जल्द सुलझा लिया जाएगा। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में गेहूं, चावल की उठान प्रक्रिया शुरू की जा रही है, तथा आरएफसी को यह निर्देश दिए गए हैं।
दून, हरिद्वार, यूएसनगर में स्थानीय राशन की दुकानों से दूसरे राज्यों के लोगों को ट्रायल के रूप में अनाज मिला है।
उत्तराखंड के पात्र राशन कार्डधारक 23 राज्यों में जाने पर वहां अपने कार्ड के जरिये राशन ले सकते हैं। वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना की औपचारिक लॉन्चिंग प्रक्रिया भी जल्द पूरी कर ली जाएगी।
सरकार ने उत्तराखंड को आंध्र प्रदेश, बिहार, गोवा, दमन एवं दीव, हिमाचल, गुजरात, हरियाणा, जम्मू कश्मीर, झारखंड, कर्नाटक, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, मणिपुर, केरल, मिजोरम, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, नगालैंड, ओडिशा, पंजाब, सिक्किम, तेलंगाना और त्रिपुरा, से जोड़ दिया है। जिससे आम आदमी को ज्यादा समस्याओं का सामना नही करना पड़ेगा।
राज्य में 9,200 सरकारी राशन की दुकानों में 7,500 बायोमैट्रिक से लैस किया जा चुका हैं। शेष दुकानों को भी बायोमैट्रिक से लैस किया जा रहा है।