देश

पुलवामा हमले में शहीद प्रदीप की पत्नी को मकान खाली कराने की धमकी, हजम कर चुके मदद की लाखों रकम

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवान प्रदीप यादव की पत्नी नीरज ने सास, ससुर और देवर पर मारपीट, गालीगलौज, धमकी देने व प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। कल्याणपुर थाने में तहरीर देकर कहा है कि उस पर मकान खाली करने का दबाव बनाया जा रहा है।

केंद्र व राज्य सरकार और विभिन्न संगठनों से मिलने वाली आर्थिक सहायता पर अपना हक जता रहे हैं। कल्याणपुर थाने के एसएसआई सुरेश कुमार ने टीम के साथ रविवार को घर पहुंचकर पूछताछ की। नीरज दो बेटियों के साथ बारा सिरोही कल्याणपुर में रहती है। यह मकान प्रदीप ने बैंक से लोन लेकर खरीदा था।

इसके किस्तें अभी चल रही हैं। मूलरूप से कन्नौज के अजान गांव निवासी प्रदीप के पिता अमर सिंह, मां व छोटा भाई कुलदीप भी बारा सिरोही में रहते हैं। नीरज का आरोप है कि देवर अक्सर उसके साथ गालीगलौज करता है। पीटने की धमकी देता है। मकान खाली करने का दबाव डालता है।

वहीं, सास व ससुर कहते हैं कि प्रदीप उनका भी बेटा था। राज्य व केंद्र सरकार के साथ ही समाजसेवी संगठनों व निजी संस्थानों से मिलने वाली आर्थिक सहायता पर उनका भी हक है। नीरज ने बताया कि 24 मार्च को बरेली से बी फार्मा एसोसिएशन से जुड़ी संस्था के लोग कन्नौज में उसे दो लाख की सहायता राशि देने आए थे।

वहां ससुर व देवर ने चेक लेने की कोशिश की, लेकिन उन लोगों ने उसे ही देने की बात कहकर उन्हें चेक नहीं दिया। ससुर और देवर पहले ही आर्थिक मदद के रूप में मिली काफी धनराशि हजम कर चुके हैं। नीरज ने यह भी आरोप लगाया है कि तीनों उसे मानसिक रूप से परेशान करते हैं। शहीद की पत्नी के मुताबिक वह एसपी कन्नौज, एसएसपी कानपुर व एसपी पश्चिम संजीव सुमन से भी मामले की शिकायत कर चुकी हैं। थाना प्रभारी अश्वनी पांडेय ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.