Home अंतर-राष्ट्रीय स्लाइड

पाकिस्तान में 100 से ज्यादा मेडिकल स्टाफ कोरोना पॉजिटिव, डॉक्टरों ने दी हड़ताल की धमकी

Facebooktwittermailby feather

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में सोमवार को कम से कम 20 डॉक्टर कोरोना वायरस की चपेट में आ गए जिससे राज्य में इस खतरनाक वायरस से संक्रमित चिकित्सा कर्मियों की संख्या 50 तक पहुंच गई है। पाकिस्तान के चिकित्सा से जुड़े संगठन ने बताया कि देश में अब तक 100 से ज्यादा डॉक्टर, नर्स और अर्धचिकित्सा कर्मी इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। देश में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की सरकार पर डॉक्टरों को सुरक्षा कवच नहीं मुहैया कराने के आरोप लग रहे हैं।

पंजाब सरकार के एक अधिकारी के अनुसार अब तक प्रांत में 50 से ज्यादा चिकित्साकर्मी इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। अधिकारी ने बताया, ”निश्तार अस्पताल, मुल्तान के 22 डॉक्टर और छह नर्सों के रविवार (12 अप्रैल) और सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई। अस्पताल के 160 डॉक्टर और नर्स पृथक किए गए हैं।”

अधिकारी ने बताया कि डॉक्टर कोरोना वायरस के मरीज के सीधे संपर्क के कारण संक्रमण की चपेट में आ गए थे। पाकिस्तान मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉक्टर मसोदूर रौफ हराज ने कहा, ‘चिकित्सा कर्मी जो पहले मोर्चे पर लड़ रहे हैं उन्हें एन-95 मास्क तक नहीं मुहैया कराया जा रहा है जिसकी वजह से डॉक्टरों, नर्सों और अर्धचिकित्साकर्मियों की जान खतरे में है।’ उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर सरकार चिकित्सा कर्मियों को पीपीई देने में विफल रहती है तो कर्मी हड़ताल पर जाएंगे।

पाकिस्तान यंग नर्सेज एसोसिएशन की अध्यक्ष साइमा अंसारी ने सरकार द्वारा पीपीई नहीं मुहैया कराए जाने की निंदा की है। उन्होंने कहा कि पंजाब में कम से कम दो नर्स की मौत कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद हो गई। पंजाब के मुख्यमंत्री उस्मान बुजदर ने निश्तार अस्पताल मुल्तान की स्थिति का संज्ञान लिया है और स्वास्थ्य अधिकारियों को चिकित्सा कर्मियों को सुरक्षा किट देने को कहा है। पाकिस्तान में कोरोना वायरस के संक्रमण के 5,374 मामले सामने आ चुके हैं और देश में इससे मरने वालों की संख्या 93 तक पहुंच गई है।

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.