उत्तराखंड वेब-वायरल

देहरादून में कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या

श्री दुर्गा मंदिर की सुरक्षा कमेटी की पंचायत में कांग्रेस वार्ड अध्यक्ष की गोली मारकर हत्या कर दी गई. हत्यारोपित भाजपा नेता और पूर्व सभासद का पुत्र फरार हो गया. आक्रोशित लोगों ने भाजपा नेता और हत्यारोपित के पिता की जमकर धुनाई कर दी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने बीच-बचाव का प्रयास किया तो लोग पुलिस से भी उलझ गए. पुलिस ने जैसे-तैसे हत्यारोपित के पिता को जिला अस्पताल में भर्ती कराया. पूछताछ के लिए कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है. हत्यारोपित को तलाश की जा रही है.

घटना के बाद से कांग्रेसियों में रोष

संजय नगर खेड़ा, वार्ड 11 में श्री दुर्गा मंदिर परिसर में बाजार लगता है. इसके लिए सुरक्षा कमेटी का भी गठन किया है. एक दशक पूर्व से सभासद उर्मिला विश्वास के पति और भाजपा नेता सुभाष विश्वास इस कमेटी के अध्यक्ष हैं. वह वर्तमान में भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष भी है. करीब 9 माह पूर्व कमेटी के पांच लाख रुपये के गबन का आरोप अध्यक्ष सुभाष विश्वास के ऊपर लगा था, इसे लेकर कई बार पंचायत हुई, लेकिन वह नहीं पहुंचे. इस पर लोगों ने पंचायत कर सुभाष विश्वास को अध्यक्ष पद से हटाकर अमल मंडल को अध्यक्ष बना दिया. आरोप है कि इसके बाद से सुभाष और उसके पुत्र कमेटी पदाधिकारियों और सदस्यों को धमकाते थे. दो दिन पहले सुभाष विश्वास ने कमेटी पदाधिकारियों पर तहबाजारी के नाम पर अवैध वसूली करने का आरोप लगाते हुए डीएम कार्यालय में शिकायत भी की थी. इसके बाद कमेटी पदाधिकारी और सदस्यों ने मामले का निस्तारण न होने तक बाजार बंद रखने का निर्णय लिया था. शुक्रवार को श्री दुर्गा मंदिर परिसर में इसी मसले को लेकर पंचायत आयोजित की गई थी.

निरीक्षक फौरन पुलिस के साथ पहुंचे

पंचायत में वर्तमान अध्यक्ष अमल मंडल के साथ ही संजय नगर खेड़ा निवासी 45 वर्षीय डॉ. नीरज बढ़ई पुत्र सूर्यकांत बढ़ई भी थे. सुभाष विश्वास के न आने पर लोग जाने लगे. इसी बीच सुभाष विश्वास अपने पुत्र संजू विश्वास और उसके दोस्त गौतम, रंजीत और तपन के साथ पहुंच गए. कमेटी के पदाधिकारी-सदस्यों से सुभाष विश्वास और उसके पुत्र का विवाद हो गया. देखते ही देखते धक्का मुक्की भी हुई. इसी बीच संजू ने डॉ. नीरज बढ़ई के माथे पर पिस्टल सटाकर गोली मार दी. इससे डॉ. नीरज की मौके पर ही मौत हो गई. यह देख भड़के लोगों ने सुभाष विश्वास को पकड़कर धुन दिया, जबकि उसका हत्यारोपित पुत्र संजू अपने साथियों के साथ फरार हो गया. सूचना पर प्रभारी निरीक्षक ट्रांजिट कैंप जीबी जोशी पुलिस कर्मियों के साथ पहुंचे और बीच बचाव कर लहुलूहान सुभाष को जिला अस्पताल में भर्ती कराया. बाद में पुलिस ने डॉ. नीरज बढ़ई के शव को कब्जे में लिया. साथ ही हत्यारोपित संजू और उसके साथियों की तलाश शुरू कर दी. पुलिस ने पूछताछ के लिए कुछ युवकों को भी हिरासत में लिया है. घटना के बाद रुद्रपुर में ही बैठक में पहुंचे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह समेत तमाम कांग्रेसी अस्पताल पहुंच गए. घटना के बाद से कांग्रेसियों में रोष है

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.