Home देश मेडिकल स्लाइड

दिल्ली हिंसा: IB अधिकारी अंकित की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा- चाकू से किया गया कई बार हमला

Facebooktwittermailby feather

नागरिकता कानून (CAA) के बाद दिल्ली के भड़की हिंसा के बाद इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के अधिकारी अंकित शर्मा का शव चांदबाग के इलाके से एक नाले से बरामद किया गया था. प्रारंभिक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता चलता है कि उनकी बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. समाचार एजेंसी आईएएनएस के अनुसार शर्मा के शरीर में गहरी चोटों के कई निशान मिले हैं. ये निशान तेज धार वाली तेज धार वाले हथियार से किये मालूम पड़ते हैं. एक रिपोर्ट के अनुसार शव परीक्षण करने वाले डॉक्टरों ने कहा है कि 26 वर्षीय अंकित पर कई बार चाकू से हमला किया गया.

अंकित शर्मा आईबी के साथ 2017 से सुरक्षा सहायक के रूप में काम कर रहे थे. वह पूर्वोत्तर दिल्ली के चांद बाग में रहते थे और यह देखने के लिए बाहर गए थे कि मंगलवार को इलाके में हिंसा हो रही थी. उनके परिवार के सदस्यों ने आठ घंटे तक अंकित की खोज की, जिसके बाद अगली सुबह पता चला कि उनका शव एक नाले से मिल गया है. आम आदमी पार्टी (आप) के पार्षद ताहिर हुसैन के खिलाफ उनके परिवार द्वारा एफआईआर दर्ज की गई है. शर्मा के भाई अंकुर ने कहा कि भीड़ ने युवक को पकड़ लिया और ताहिर हुसैन के घर के भीतर खींच लिया. उनके परिवार ने कहा कि भीड़ ने उन्हें वहां मार डाला.

स्थानीय लोगों ने यह भी आरोप लगाया कि हुसैन शर्मा को मारने के लिए भीड़ को उकसाने के लिए जिम्मेदार था. दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने एक ट्वीट के जरिये कहा है कि ”दुगनी सज़ा मतलब अब ताहिर के साथ साथ उसके आका को भी सज़ा मिलनी चाहिये कड़ी से कड़ी … निर्धारित समय सीमा में इस केस के आरोपियों और साज़िशकर्ताओं को फाँसी की सज़ा मिलनी चाहिए..400 बार चाकू से गोदना एक IB अफ़सर को ?? धार्मिक असहिष्णुता ने आप को कितना गिरा दिया..” ताहिर हुसैन आप के टिकट पर पार्षद का चुनाव लडे थे.

AAP ने हुसैन को इस मामले में समय पर जांच पूरी होने तक निलंबित कर दिया है. पार्टी के सोशल मीडिया हेड अंकित लाल और ओखला विधायक अमानतुल्ला खान ने हालांकि हुसैन का बचाव किया है. लाल ने कहा कि हुसैन घटना के समय घर पर नहीं थे, खान ने ट्विटर पर आरोप लगाया कि यह भाजपा द्वारा AAP को बदनाम करने की साजिश है.

समाचार एजेंसियों ने बताया कि चांद बाग में हुसैन के घर में अभी भी कई पेट्रोल बम की बोतलें, एसिड पाउच और छत पर बिखरे पत्थर मौजूद हैं. दिल्ली की हिंसा में एक हेड कांस्टेबल सहित कम से कम 38 लोगों की मौत हो गई है, जबकि रविवार को शुरू हुई और सोमवार को हुई दिल्ली हिंसा में 300 से अधिक घायल हो गए.

Similar Posts

© 2015 News Way· All Rights Reserved.