गैरसैंण पज्याणा गांव से दस पाजिटिव, लोगों में बेचैनी, प्रशासन चैकन्ना

Facebooktwittermailby feather

रविवार देर रात एक कोरोना पाजीटिव की रिपोर्ट आने के बाद ब्लाक गैरसैंण में कोरोना सं‌क्रमितों की संख्या कुल दस हो गई है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार सभी 10 पाजीटिव व्यक्ति एक ही गांव के हैं जो दिल्ली के कापासेड़ा इलाके के आस पास से ही आये थे। इन सभी लोगों को इलाज के लिए जिला अस्पताल गोपेश्वर में आइशोलेट किया गया है। सभी संक्रमित दिल्ली से आने पर गांव के प्राथमिक विद्यालय में एक-दो दिन के लिए क्वारंटीन हुए थे। इस बीच एक की पाजी‌‌टिव रिपोर्ट आने पर वहां क्वारंटीन में रह रहे सभी 16 लोगों को गैरसैैँण संस्थागत क्वारंटीन में रखा गया और उनके नमूने लेकर जांच के लिए भेजे गये। इनमें से नौ लोगों केे नमूने पाजीटिव पाये जाने पर गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है।
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए प्रशासन ने सोमवार को गांव की चौकसी बढ़ाते हुए सुरक्षा कर्मियों को तैनात कर दिया है।और पज्याणा गांव को एक सप्ताह के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है। सोमवार को एसडीएम कौस्तुभ मिश्र की टीम ने पज्याणा गांव जा कर लोगों को प्रशासन द्वारा जारी निर्देशों के पालन करने की अपील करते हुए कहा कि कोई भी ग्रामीण गांव से बाहर न जायें अनावश्यक दूसरे के घरों में भी न जायें, सामाजिक दूरी बनाये रखने के साथ साथ मास्क का अनिवार्य रूप से पालन करें।
उन्होंने लोगों को न घबराने की बात कहते कहा कि सबको आपसी सहयोग से कोरोना को हराना है। नियमों के उलंघन करने वाले पर वैधानिक कार्यवाही की जायेगी। पज्याणा गांव में नगर पंचायत के पर्यावरण मित्रों ने फागिंग कर सेनीटाइज किया। इस दौरान गांव में पहुंचे सीएचसी के अधीक्षक डॉ मणीभूषण पंत ने कहा कि संक्रमितों के संपर्क में आये हुए लोगों को चिन्हित किया गया है और उनका चरणवद्ध स्वास्थ्य जांच की जायेगी। आवश्यकता पड़ने पर उनके सैंपल भी जांच के लिए भेजे जायेंगे। इस दौरान उपजिलाधिकारी कौस्तुभ मिश्र, अधीक्षक डॉण्मणीभूषण पंत, थानाध्यक्ष सुभाष गैरोला, नायब तहसीलदार राकेश पल्लव, नगर पंचायत के अधिकशासी अधिकारी गुरूदीप आर्य, राउनि लक्ष्मी प्रसाद गैरौला, ग्राम प्रधान विजय सिंह, ग्रामीण मेहरवान सिंह, मोहन प्रसाद जुयाल, एडवोकेट केएन जुयाल, पर्यावरण मित्र आदि मौजूद रहे।