उत्तराखंड

खुशखबरी: अतिथि शिक्षक भर्ती का सॉफ्टवेयर तैयार

अतिथि शिक्षक भर्ती के लिए सरकार से अनुमति मिलने के बाद शिक्षा विभाग ने कमर कस ली। शुक्रवार को भर्ती के साफ्टवेयर को अंतिम रूप दे दिया। 26 नवंबर को इसे परीक्षण के लिए एनआईसी को दिया जाएगा। दूसरी तरफ, ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया नि:शुल्क रखने पर भी सहमति बनी है। सरकार ने भी भर्ती के जीओ में शुल्क का उल्लेख नहीं किया है।

दिसंबर के पहले हफ्ते में आवेदन प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद की जा रही है। शुक्रवार को अवकाश के बावजूद शिक्षा विभाग के अधिकारी दिनभर सॉफ्टवेयर पर पसीना बहाते रहे। शिक्षा निदेशक आरके कुंवर ने माध्यमिक शिक्षा और प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट की नोडल टीम के साथ मैराथन बैठक की। बैठक में एपीडी डॉ. मुकुल कुमार सती, उपनिदेशक डॉ. आनंद भारद्वाज, चंदन सिंह बिष्ट, मुकेश बहुगुणा आदि शामिल रहे। कुंवर ने बताया, सॉफ्टवेयर का 26 नवंबर को एनआईसी से परीक्षण होगा। इसके बाद आवेदन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। आवेदन को दस दिन दिए जाएंगे।

‘पद-आयु सीमा बढ़ाए सरकार’
अतिथि शिक्षक संघ के अध्यक्ष विवेक यादव ने सरकार से एलटी के पद बढ़ाने व अधिकतम आयु सीमा पूरी कर चुके पूर्व के अतिथि शिक्षकों को रियायत देने की मांग की। विवेक ने कहा कि अतिथि शिक्षकों के लिए पूर्व में एलटी के पदों की संख्या 1600 से ज्यादा थी जोकि इस बार 834 ही रह गई है। सरकार को चाहिए कि इन पदों की संख्या पर पुनर्विचार करें। राज्य में सरकारी सेवा के लिए अधिकतम आयु सीमा 42 साल है। पर, पूर्व से सेवारत कुछ अतिथि शिक्षक इस आयु सीमा को पार कर चुके हैं। उनके पूर्व के अनुभव को देखते हुए रियायत दी जाए।

प्रवक्ता और एलटी के 5034 पदों अतिथि शिक्षक की भर्ती की आवेदन प्रक्रिया पूरी होने के बाद कोशिश होगी कि मेरिट जल्द बनाकर जिलास्तरीय चयन समितियों को सौंप दी जाए। समितियां मेरिट के आधार पर चयनितों को तैनाती देंगे।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.