उत्तराखंड में नई भर्तियों पर नहीं लगाई गयी कोई रोक :मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

Facebooktwittermailby feather

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि प्रदेश सरकार ने नई भर्तियों पर रोक नहीं लगाई है। केवल नए पदों के सृजन पर रोक लगाई गई है। पहले से सृजित पदों पर भर्ती पर कोई रोक नहीं है।

बुधवार को खर्चों पर कटौती को लेकर सरकार की ओर से लिए गए निर्णय के बाद बृहस्पतिवार को मुख्यमंत्री ने नई भर्तियों को लेकर स्थिति स्पष्ट की। उन्होंने कहा कि चतुर्थ श्रेणी के पदों के साथ-साथ कतिपय विशिष्ट/तकनीकी कार्य के लिए सृजित वाहन चालक, माली, वायरमैन, इलेक्ट्रीशियन, प्लंबर, मिस्त्री, लिफ्टमैन, एसी-मैकेनिक एवं अन्य इसी प्रकार से रिक्त होने वाले पदों पर समस्त सेवाएं बाह्य स्त्रोत से लेने की व्यवस्था के अनुरूप संविदा/आउटसोर्सिंग के आधार पर होंगी। बताया कि चतुर्थ श्रेणी के पदों पर नई भर्ती पर सातवें वेतन आयोग ने पूर्व में ही रोक लगाई हुई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना प्रारंभ की है। जिसके माध्यम से प्रदेश के युवा अपना काम शुरू कर सकते हैं। इसमें ऋण और अनुदान की व्यवस्था की गई है। अपने गांवों को वापस लौटे लोगों की आजीविका के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है

सरकार के खर्चों में की गई कटौती को लेकर उन्होंने मीडिया को बताया कि कोविड-19 से पैदा हुए हालातों से आय के साधन कम हो गए हैं। इसी लिए अधिकारियों को निर्देश दिया था कि जहां अधिक खर्चे हो रहे हैं, उन्हें कम किया जाए और आर्थिक हालात को देखते हुए कटौती की जाए। यह एक फेज है, जिससे निकलने के बाद सब सामान्य हो जाएगा।