उत्तराखंड

उत्तराखंड: महिलाओं ने हंगामा कर पुलिस को दी कपड़े फाड़ने की धमकी, फिर हुआ ऐसा कि मांगने पड़ी माफ़ी

कोसी बैराज के समीप स्कॉर्पियो में सवार महिलाओं ने वाहन हटाने को लेकर खासा हंगामा किया। एक तरफ उनके वाहन ने यातायात नियमों को तोड़ा ही वहीं दूसरी ओर पुलिस कर्मियों के टोकने पर दबंगई पर उतर आईं।

उन्होंने वहां पर तैनात सिपाही को अपने कपड़े फाड़कर फंसाने की चेतावनी तक दे डाली। महिलाएं पुलिस को उप्र के ब्लॉक प्रमुख का वाहन होने की बात कहते हुए अपनी हेकड़ी दिखाती रही। इसके बाद पहुंची महिला पुलिस उन्हें कोतवाली ले आई। जहां माफी मांगने व चालान करने पर उन्हें छोड़ा गया।गुरुवार को कोसी बैराज के समीप टै्रफिक पुलिस ड्यूटी पर थी। इस दौरान एक स्कॉर्पियो चालक लाइन से हटकर आगे वाहन बढ़ाने लगा।

सिपाही संतोष सिंह ने उसे रोकने का प्रयास किया। इसी बीच चालक की लापरवाही से सिपाही के पैर में चोट लग गई। किसी तरह वाहन रुकवाया तो चालक सिपाही से ही उलझ गया। वाहन में तीन महिलाएं समेत छह लोग सवार थे। सूचना पर एसआइ चेतन रावत व विपिन जोशी मौके पर पहुंच गए। वाहन में सवार तीन महिलाएं नीचे उतरकर दारोगा से उलझने लगी।

उल्टा सिपाही पर बदतमीजी का आरोप लगाते हुए कार्रवाई किए जाने पर अपने कपड़े फाड़कर फंसाने की धमकी देने लगी। काफी देर तक हंगामा होता रहा। तभी कोतवाली से महिला दारोगा को बुलाकर सभी लोगों को कोतवाली लाया गया। कार्रवाई किए जाने पर वह माफी मांगने लगे। एसआइ रावत ने बताया कि फरीदपुर ठाकुरद्वारा उप्र निवासी सतेंद्र का तेजी से वाहन चलाने के आरोप में एक हजार रुपये का चालान काटा गया। इसके बाद उन्हें जाने दिया गया।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.