उत्तराखंड के कोटद्वार में पकड़ा गया बरेली से लाया गया नशे का जखीरा, दो गिरफ्तार

Facebooktwittermailby feather

नशे के खिलाफ चल रही मुहिम के तहत कोटद्वार पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है। पुलिस ने दो स्मैक तस्करों को 1 किलो 50 ग्राम चरस, 1500 पुड़िया स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। तस्कर बरेली उत्तर प्रदेश से स्मैक बेचने के लिए लाते थे। चरस और स्मैक की बाजार में कीमत पांच लाख रूपये बताई जा रही है। पुलिस ने दोनों तस्करों के खिलाफ आइपीसी की धारा 8/20/21 एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है।

पुलिस को सूचना मिली कि एनडीपीएस से सम्बन्धित माल की बहुत बड़ी खेप कोटद्वार में बरेली व अन्य स्थानों से आ रही है। जिस पर सीआईयू/एंटी ड्रग टास्क फोर्स प्रभारी रफत अली ने पुलिस उपाधीक्षक और उपनिरीक्षक कमलेश शर्मा को सूचना देकर मौके पर बुलाया। सूचना पर सीओ अनिल कुमार जोशी और उपनिरीक्षक कमलेश शर्मा पुलिस टीम के साथ आर्मी कैंटीन पुल के पास पहुंचे और वाहनों की चेकिंग करने लगे।

इसी दौरान मोटर साइकिल पर दो व्यक्ति बिना हेलमेट सवार पुल की ओर आ रहे थे। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो मोटर साइकिल सवार बाइक को मोड़कर भागने की कोशिश करने लगे। जिस पर पुलिस को उन पर शक हुआ। पुलिस कर्मियों ने उन्हें घेरकर पकड़ लिया। पुलिस कर्मियों ने जब दोनों युवकों की तलाशी ली तो उनके पास से 1 किलो 50 ग्राम चरस, 1500 पुड़िया स्मैक की बरामद हुई। पुलिस दोनों को गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई।

जहां पुलिस पूछताछ में युवकों ने बताया कि वह स्मैक को बरेली से तथा चरस को पहाड़ी क्षेत्र से एकत्र करके लाते है और स्मैक पहाड़ी क्षेत्रों सहित कोटद्वार कस्बे के आसपास नजीबाबाद बिजनौर, हरिद्वार ऋषिकेश आदि क्षेत्र के युवाओं को पुड़िया बनाकर फुटकर में बेचकर मुनाफा कमाते है। अपर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कोटद्वार क्षेत्र के कुछ नौजवानों को चिन्हित किया गया है जो नशीले पदार्थों का सेवन करते है, जिनकी काउंसलिंग की जा रही है तथा परिजनों के माध्यम से इलाज करवाया जा रहा है।

अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय ने बताया कि 1 किलो 50 ग्राम चरस, 1500 पुड़िया स्मैक के साथ सागर सिंह पुत्र सूरत सिंह निवासी ग्राम पीपला जागीर टैम्पो तिराह के पास थाना नूरपुर बिजनौर उत्तर प्रदेश हाल निवासी मानपुर कोटद्वार, वीरेन्द्र सिंह पुत्र नन्दन सिंह निवासी शिवपुर कॉलोनी कोटद्वार को गिरफ्तार किया गया है। सागर सिंह के पास से 1 किलो 50 ग्राम चरस, 1000 पुड़िया स्मैक की बरामद की है। वीरेन्द्र सिंह के पास से 500 स्मैक की पुड़िया बरामद की है।

मटन व चिकन की दुकान से संचालित होता था स्मैक कारोबार
अपर पुलिस अधीक्षक प्रदीप राय ने बताया कि अभियुक्त सागर की मानपुर में मटन व चिकन की दुकान है। जहां पर मटन चिकन की दुकान की आड़ में अभियुक्त सागर अपने साथी वीरेन्द्र उर्र्फ वीरू से स्मैक व चरस (सुलफा) छात्रों व नशा करने वालों को बेचकर भारी मात्रा में मुनाफा कमाते है। उन्होंने बताया कि अभियुक्त वीरेन्द्र उर्फ वीरू के खिलाफ थाना कोटद्वार में एनडीपीएस एक्ट में दो मुकदमें दर्ज है। अभियुक्त सागर के अपराधिक इतिहास की जानकारी ली जा रही है।