मेडिकल

आपरेशन के बहाने डॉक्टरों ने निकाले थे 2200 महिलाओं के गर्भाशय

Facebooktwittermailby feather

कर्नाटक में लालची डॉक्टरों की काली करतूतों का भंडाफोड़ हुआ है। पैसों के लालच के चलते डॉक्टरों ने लाम्बिनी और दलित समुदाय की 2200 महिलाओं का ऑपरेशन के दौरान गर्भाशय निकालने का मामला सामने आया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक कर्नाटक के कुलबर्गी में चल रहे इस रैकेट का भंडाफोड़ लगभग डेढ़ साल पहले हुआ था।

उस समय स्वस्थ्य विभाग की टीम ने मामले की जांच करके अस्पतालों का लाइसेंस भी रद्द कर दिया था, लेकिन इसके वाबजूद इन अस्पतालों ने अपना कालाधंधा चालू रखा। रैकेट का पर्दाफाश अगस्त 2015 में हुआ था और अक्टूबर 2015 में स्वास्थ्य विभाग की जांच समिति ने चार अस्पतालों के लाइसेंस रद्द कर दिए थे लेकिन वे अस्पताल आज भी कार्य कर रहे हैं।

सोमवार को हजारों की संख्या में प्रभावित महिलाओं और कार्यकर्ताओं ने कलबुर्गी उपायुक्त के कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया। महिलाओं ने गैर सरकारी संगठनों जैसे वैकल्पिक कानून फोरम, विमोचना और बंगलुरु में स्वराज अभियान के माध्यम से अपनी आवाज उठाई।

महिलाओं व प्रदर्शन कर रहे संगठनों का कहना है कि इस घोर मानवाधिकार का उल्लंघन करने वाले अस्पतालों व डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई हो और उन्हें सजा मिले।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2015 News Way· All Rights Reserved.