अमेरिका ने की चीन के खिलाफ बड़ी कार्रवाई

Facebooktwittermailby feather

कोरोना वायरस और एशिया में दादागिरी दिखाने पर चीन से खफा चल रहे अमेरिका ने बीजिंग के खिलाफ बेहद कड़ी कार्रवाई कर दी है। मिली जानकारी के मुताबिक ट्रंप प्रशासन ने चीनी अफसरों के वीजा पर रोक लगा दी है। ट्रंप प्रशासन का यह कदम ठीक वैसा ही है जैसा कि उसने ईरान के खिलाफ उठाया था।

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने जानकारी दी कि अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने हॉन्‍ग कॉन्‍ग की स्‍वतंत्रता को कमजोर करने वाले चीन के अधिकारियों को सजा देने का प्रण किया था। पोम्पियो ने कहा कि अमेरिका का चीन को यह पहली सजा है। अगर इससे चीन नहीं मानेगा तो चीन को इससे भी कठोर सजा दी जायेगी।

माइक पॉम्पियो ने कहा, ‘आज हम इस संबंध में कार्रवाई कर रहे हैं। हम हॉन्‍ग कॉन्‍ग की स्‍वायत्‍तता और मानवाधिकारों को दबाने के लिए जिम्‍मेदारी चीनी अफसरों पर वीजा संबंधी प्रतिबंध लगा रहे हैं।’ इससे पहले माइक पोम्पिओ ने इस बात पर जोर दिया कि स्वतंत्रता और अधिनायकवाद के बीच कोई समझौता नहीं हो सकता। इसके साथ ही उन्होंने इस तर्क को खारिज कर दिया कि तनाव को शांत कर लेना चाहिए और तेजी से आक्रामक हो रही चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीसी) को स्वीकार कर लेना चाहिए।